कल की ही बात है

कल की ही बात थी
कुलांचे भरी थीं , खेत – खलिहानों में ,
हाँ ये कल की ही बात थी कि फ्रॉक से सलवार कमीज़ पर आई थी ।
कल की बात थी कि माँ ने ऊपर दुपट्टा उढ़ा दिया था ,
हाँ ये कल की ही बात थी जब घर के मेहमान ने मुझे कस कर दबोच लिया था ,
बदन छिल रहा था और सिसकी घुट गयी थी ,
वो हँस रहा था और मैं थरथरा रही थी ,
माँ का उढ़ाया दुपट्टा दूर पड़ा उठा नही पाई थी ,
उस मेहमान की खुरदुरी हंसी कभी भूल नही पाई थी ।
उसके लिए घरवालों का लगाव देख , किसी से कुछ कह नही पाई थी ।
हाँ ये कल की ही बात थी कि मैं रातों रात बड़ी हो गई थी ।
माँ का उढाया दुप्पटा भी बड़ा हो गया था ,
ये मत पहन , टाँगें दिखती हैं , ये पहन , छाती नही दिखनी चाहिए तेरी ।
माँ के सवाल और बढ़ती हिदायतें भी याद आई थीं ,
छत पे क्या कर रही थी ,
कॉलेज से देर क्यों हो गई थी ?
ये कल की ही बात थी कि बस में मुश्किल था सफ़र करना ,
अजनबी हाथों की छुअन से बेबस सड़क पे गिर आई थी ,
कहाँ ज़ख्म हुए ,कहाँ चोट खाई मैंने , कह नही पाई थी ।
जल्दी ब्याह दो ,कह बोझ बन गयी थी ।
कल की बात है कि मेरा ब्याह बड़ी बात बन गई थी ,
ब्याह का मतलब मैं कब जान पाई थी ?
कितनी हसीन दुनिया तब मन में सजाई थी ,
समय ने कैसी कैसी दुनिया फिर मुझे दिखाई थी ,
शादी हो गई फिर भी रिश्ते नही समझ पाई थी ,
रिवाज़ों का बोझ मैं कब उठा पाई थी ?
कल की ही बात है ,पत्नी से माँ कब बनी जान नही पाई थी ।
घर , बच्चे , रिश्ते , गृहस्थी में डूबी अपने को ढूंढ नही पाई थी ।
घर की लाज का पल्लू सिर से उतार नही पाई थी ।
आईने में अपना चेहरा पहचान नही पाई थी ,
डूबी आँखों पर चाँदी का वर्क देख नज़र धुंधलाई थी ।
फिर भी दिल ने कुछ करने की चाह जगाई थी ,
कल की ही बात है एक छोटी सी लड़की की कुलांचे याद आई थीं ,
तन को भूल मन ने हर एक अधूरी तमन्ना दोहराई थी ।
समय बहुत कम है ,ये सोच कर आँख भर आईं थी ।
हर पल ज़िन्दगी का आखिरी पल है याद कर तन में जान भर आईं थी ।
ये कल की ही बात है कि ज़िन्दगी की हर मन्ज़िल फिर से याद आई थी ।

2 thoughts on “कल की ही बात है

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s